Advertisement

ज्योतिष

मानव जीवन पर शुक्र ग्रह का प्रभाव

आगे पढ़ें

स्त्रियोचित भाव वाले तथा दैत्य गुरु माने जाने वाले शुक्र गृह का मानव स्वास्थ्य पर काफी प्रभाव पड़ता है. ख़ासकर मानव के प्रेम संबंधों, सन्तानोत्पादकता आदि विषयों के लिए काफी हद तक शुक्र उत्तरदायी होता है पर विभिन्न उपायों द्वारा उनका निराकरण भी किया जा सकता है. वृष और तुला राशि के स्वामी शुक्र के स्वभाव व भावों का विवेचन करता पंडित प्रसाद दीक्षित का आलेख.....

मानव जीवन पर शुभ ग्रह बृहस्पति का प्रभाव

आगे पढ़ें

सौर मंडल के सबसे बड़े ग्रह और देवताओं के गुरु कहे जाने वाले वृहस्पति का मानव जीवन पर काफी व्यापक प्रभाव पड़ता है. शुभ लक्षणों से युक्त होने पर जहां यह मनुष्य को उच्च पद पर आसीन करता हैं वहीं नीच स्थान पर होने पर दुष्प्रभाव भी देता है. नौ ग्रहों की इस श्रृंखला में आज पंडित प्रसाद दीक्षित जी ने वृहस्पति के फलाफल योग का सूक्ष्मता से वर्णन किया है.........

मानव जीवन पर सौम्य ग्रह बुध का प्रभाव

आगे पढ़ें

मानव जीवन पर सौम्य ग्रह बुध का प्रभाव..

मानव जीवन पर क्रूर ग्रह मंगल का प्रभाव

आगे पढ़ें

जीवन के हर पहलू का भरोसेमंद उत्तर भारतीय ज्योतिष में मिलता है. सभ्यता की शुरुआत से ही यहां के ऋषियों ने ब्रह्माण्ड के तमाम ग्रहों के हमारे जीवन पर पड़ने वाले प्रभाव का सार्थक अध्ययन किया है. वर्षों की गवेषणा के बाद यह निर्णय निकला कि पृथ्वी पर रहने वाले मानवों के जीवन पर नौ ग्रहों तथा उनकी गति का प्रभाव पड़ता है. ये ग्रह हैं - सूर्य, चंद्र, गुरु, बुध, शुक्र, मंगल, शनि, राहु और केतु. अगले कुछ हफ़्तों तक हम 'ज्योतिषाचार्य और काशीविश्वनाथ मंदिर के न्यासी' पंडित प्रसाद दीक्षित द्वारा मनाव जीवन पर सभी ग्रहों ..

"मानव जीवन पर चंद्रमा का प्रभाव"

आगे पढ़ें

जन्मांग कुंडली के बारहवें भाव में चंद्रमा का शुभ अथवा अशुभ फल इस प्रकार होता है —प्रथम भाव अथवा लग्न में चंद्रमा हो तो लग्न मेष, वृष, कर्क हो तो वह मनुष्य धनवान, कांतिवान तथा आनंद का भागी होता है, अन्यथा लग्न मिथुन, सिंह, कन्या धनु, मकर, कुंभ एवं मीन हो तो वह जातक धनहीन, दुर्बल दरिद्र एवं मूर्ख होता है l ऐसा जातक स्थूल शरीर एवं दान विद्या का प्रेमी होता है l यदि चंद्र दूसरे भाव में हो तो जातक को धन का विशेष लाभ होता है l शरीर से सुखी एवं स्त्रियों से विलास करने में निपुण होता है l अपने कुटुंबियों ..

ग्रहों का मानव जीवन पर प्रभाव शृंखला

आगे पढ़ें

जीवन के हर पहलू का भरोसेमंद उत्तर भारतीय ज्योतिष में मिलता है. सभ्यता की शुरुआत से ही यहां के ऋषियों ने ब्रह्माण्ड के तमाम ग्रहों के हमारे जीवन पर पड़ने वाले प्रभाव का सार्थक अध्ययन किया है. वर्षों की गवेषणा के बाद यह निर्णय निकला कि पृथ्वी पर रहने वाले मानवों के जीवन पर नौ ग्रहों तथा उनकी गति का प्रभाव पड़ता है. ये ग्रह हैं - सूर्य, चंद्र, गुरु, बुध, शुक्र, मंगल, शनि, राहु और केतु. अगले कुछ हफ़्तों तक हम 'ज्योतिषाचार्य और काशीविश्वनाथ मंदिर के न्यासी' पंडित प्रसाद दीक्षित द्वारा मनाव जीवन पर सभी ग्रहों ..

दोष निवारण में है वास्तु विज्ञान की विश्वसनीयता

आगे पढ़ें

दोष निवारण में है वास्तु विज्ञान की विश्वसनीयता..